अब स्कूल/बोर्ड ही नहीं जीवन की किसी भी परीक्षा में आसानी से जीत होगी….. with Framework

दोस्तों, Final Exams का सीजन शुरू होने वाला है और आप सभी पेपरों में अच्छे नंबर पाने के लिए पूरी मेहनत कर रहे होंगे इसमें कोई शक नहीं है I परन्तु मेरा सवाल आपसे ये है कि क्या आप अभी तक किये जा रहे अपने प्रयासों से अच्छा परिणाम पाने के लिए पूरी तरह आश्वस्त हैं? जरा सोचिये…….नहीं ना …!

चिंता मत कीजिये, मैं आज आपको एक ऐसा जबरदस्त frame work दे रहा हूँ जिसे apply करके आप अपने स्कूल, कॉलेज के exam ही नहीं बल्कि जीवन के किसी भी टारगेट को पाने के लिए अपना 100% दे पाओगे I परन्तु यहाँ एक इकबालिया बयान (confession) भी है कि ये टूल आपके लिए जबरदस्त रिज़ल्ट सिर्फ तभी दे सकता है जब आप खुद अपने टारगेट/गोल को लेकर सिरियस हों I

अगर आप अपने लक्ष्य को लेकर सीरियस नहीं हैं तो आप इस आर्टिकल को पढ़ने में अपना समय बर्बाद न करें I क्यूंकि ये फ्रेम वर्क ही क्या, दुनिया में कोई भी आपकी कोई मदद नहीं कर सकता I कृपया इसे बंद कर दें I

बधाई हो…. आप अभी तक इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं इसका मतलब आप अपने लक्ष्य या गोल को लेकर पूरी तरह सीरियस हैं और इसे हासिल करने के लिए सही दिशा में मेहनत करने के लिए भी पूरी तरह तैयार हैं I अब एक आख़िरी बिनती आपसे ये है इस आर्टिकल को आखिर तक पूरा जरूर पढ़ें और इस frame work को कम से कम एक हफ्ते तक ईमानदारी से अपने जीवन में apply अवश्य करें I आपको Guaranteed जबरदस्त रिजल्ट मिलेंगे I चलिए अब समय ख़राब न करते हुए सीधा मुद्दे पर आते हैं और शुरु करते हैं …

जरा रुकिए… एक छोटा सा सवाल पूछना था आपसे …. यदि एक गाड़ी को 10 घंटे में 400 किलोमीटर की दूरी तय करनी है और बीच में 2 घंटे का आराम भी करना है तो उसे कितनी स्पीड पर चलाना होगा…? गुस्सा मत कीजिये ….सोचिये… कितना आसान है न…50kmph! पर विडम्बना ये है कि हमारे असल जीवन में रूप बदल-बदल कर आने वाले इन आसान से सवालों को हम इस नज़रिए से देखते ही नहीं और इसी वजह से हल नहीं कर पाते I

हम पूरे process  को कुछ steps में बाँट लेते हैं I आप भी step by step सभी चीज़ों को फॉलो करते रहें…

1. परीक्षा या टेस्ट में जो समय बचा है उसे दो हिस्सों (75%-25%) में बाँट लें (Divide the available time into two parts):

मान लीजिये कि आपके फाइनल exam शुरू होने में अभी 8 हफ्ते बचे हैं I अब इस समय को हम 75% : 25% के अनुपात में बाँट लेते हैं I यानिकी हमारे पास जो 8 हफ्ते थे उसमें से पहले हिस्से में 6 हफ्ते और दूसरे हिस्से में 2 हफ्ते का समय है हमारे पास I

नोट – यहाँ हमने 8 हफ्ते का एक उदाहरण भर लिया है I हो सकता है कि आप में से किसी के पास 20 हफ्ते हों या किसी के पास 4 ही हफ्ते बचे हों I तो आप अपने हिसाब से इस समय को दो हिस्सों में बाँट लीजिये I

2. सिलेबस नोट करें (Note down the syllabus for Finals)-

आपके फाइनल exam में आने वाला syllabus या जो भी एक्स्ट्रा study आप करना चाहते हैं उसे नोट कर लें I ताकि आपके mind में ये clarity रहे कि आपको आख़िर तैयारी क्या-क्या करनी है I

हमने ऊपर समय को जो दो हिस्सों में बांटा था उसमें से पहले हिस्से (75%) में हमें ये सारा नया पुराना सिलेबस पूरा करना है I बाकि बचे दुसरे हिस्से (25%) के समय को हम फाइनल रिविज़न और इमरजेंसी के लिए बचा कर रखेंगे I

3. सभी विषयों के सिलेबस को पहले हिस्से के हफ़्तों में बाँट लीजिये (Divide each subject syllabus into week targets)-

उदाहरण के लिए हमारे पास 6 हफ्ते का समय है तो मैं अपने सभी subjects के सिलेबस को उनके lessons के हिसाब से 6 हफ़्तों में बराबर बाँट दूंगा I मेरा सुझाव है कि पहले हफ्ते आप बाकि हफ़्तों के मूकाबले 20% छोटा टारगेट ही रखें I क्यूंकि शुरुवात में आप इस तकनीक में माहिर नहीं होंगे और हररोज़ टारगेट पूरा न होने की वजह से आप अपने आप पर ज्यादा दबाव महसूस कर demotivated हो सकते हैं I सिर्फ एक ही हफ्ते में आप अपनी performance को देख कर ताज्जुब करेंगे I

Click Here for SAMPLE SYLLABUS DISTRIBUTION FORMAT

4. देखिये आपको पढाई के अलावा बाकि कामों के लिए हररोज़ कितना समय चाहिए(check how much time you required for your daily routines except studies):

देखिये कि आपको हररोज़ सोने, नहाने-धोने, तीनों वक़्त का खाना खाने, एक्सरसाइज़ और एक घंटा एक्स्ट्रा स्पेयर टाइम सब मिलाकर ईमानदारी से बिना समय बर्बाद किये कितना समय लगता है I मेरे हिसाब से इन सब कामों के लिए 10 घंटे पर्याप्त हैं I यानिकी हमारे पास हररोज़ 14 घंटे पढाई के लिए बचते हैं I अब हम इस 14 घंटों को पढाई में किस तरह इस्तेमाल करना है ये देखेंगे I

5. शेड्यूलिंग करते समय ध्यान रखने वाले विषय (Topics to take care when doing Scheduling):

जब आप अपना schedule या time table बनाएं तो कुछ बातों को ध्यान में रखना बहुत जरूरी है I

  • आपके पास रूटीन कामों के लिए 10 घंटे हैं I इनमें से हरेक चीज़ का समय निर्धारित करें I उदाहरण के लिए रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक सोना I हो सकता है किसी को रात में पढ़ना ज्यादा पसंद हो I तो आप अपने सोने के ये 7 घंटे किसी भी तरह से निर्धारित कर सकते हैं I इसी तरह खाना खाने, नहाने-धोने, exercise करने और एक घंटे के खाली समय का निश्चित समय होना चाहिए I इस वक़्त हमारा मकसद ये है कि हमारे रूटीन कामों का समय निर्धारित हो जाये I जिससे की 2-4 दिनों में ही हम उसमें ढल जाएँ I
  • अपने आप को एक्टिव या refresh करने के लिए रूटीन कामों का समय काफी मदद करेगा I याद रहे कि हमें नींद भी पूरी लेनी है तथा शारीरिक और मानसिक रूप से सेहतमंद रहते हुए पढाई के अपने टारगेट को भी पूरा करना है I
  • पढाई के लिए लगातार दो घंटे से ज्यादा का समय न रखें I हर दो घंटे बाद 10 मिनट का ब्रेक लें I इससे ताज़गी मिलेगी I आलस में न पड़ें I
  • इन दो घंटों के समय को भी 30-30 मिनट के 4 हिस्सों में बाँट लें I यानिकी हम यदि 14 घंटों में से एक घंटा रिफ्रेशमेंट ब्रेक के लिए भी निकाल दें तो भी 13 घंटो के 30-30 मिनट के 26 module बनेंगे I
  • 30 मिनट के हिस्सों में डिवाइड करने के पीछे की वजह थोड़े-थोड़े समय में अपनी परफॉरमेंस को चेक करना है I उदाहरण के लिए हमारे यहाँ कर्मचारियों को महीने के हिसाब से सैलरी मिलती है तो कर्मचारी पूरा महीना निश्चिन्त होकर निकाल देता है और महीने के आख़िर में पूरा ज़ोर लगा कर नौकरी बचाने की कोशिश करता दिखाई पड़ता है I ऐसा इसलिए है क्यूंकि यहाँ उसकी performance एक महीने बाद चेक होती है I जिसकी वजह से वो आलसी हो जाता है I जबकि विदेशों में मेहनताना घंटे के हिसाब से मिलता है I हर घंटे लगने वाले इस performance check की वजह से वो अपने काम में और निपुण होता जाता है और आलस उसे छू भी नहीं पाता I याद रखें कि अपनी productivity को short term में रिव्यु न करने के कारण आप long term में non-productive बन जाते हैं I
  • अब तक हमारे पास हररोज़ के fixed routine work का टाइम टेबल और पढाई का schedule बन चुका है I अब हम आगे अपना Day-Plan बनायेंगे I

Click Here for FIXED SAMPLE SCHEDULE

6. पढाई की योजना (Day Plan for Studies):

पढाई की योजना बनाते समय आप खुद को टीचर समझे और ऐसा सोचें की आप स्टूडेंट्स के लिए day study plan बना रहे हैं I ये बहुत जबरदस्इत तकनीक है अपना 100% देने की I क्यूंकि अब आप इसे बनाते वक़्त अपनी सहूलियत के बारे में नहीं  सोचेंगे I आज के study target को इस plan में 30-30 मिनट के हिस्सों में डाल दें I

  • Day plan को हररोज़ बनायें I इससे आप पिछले दिन की प्लानिंग में हुई ग़लतियों से सीखते हुए सुधार कर सकते हैं I
  • अगर आप निर्धारित समय में अपना टारगेट पूरा नहीं कर पाए हैं तो अपने आपको सज़ा भी दीजिये I और ये सज़ा है एक्स्ट्रा फ्री टाइम और जरूरत पड़े तो exercise के समय में भी पढाई कर अपने टारगेट को पूरा करना I
  • काम को अगले दिन पर टालने की आदत हमें निकम्मा बना देती है I इसलिए हर हाल में अपने daily targets को पूरा करें I
  • दिन के अंत में study schedule जिसे आपने आज पूरा किया है उस पर Tick-Mark लगायें I
  • हररोज़ रात को सोने से पहले आईने के सामने खड़े हो, आँखों में देख आज के बेहतरीन प्रयासों के लिए अपने कंधे पर थपकी देते हुए खुद को शाबाशी जरूर दें I याद रखिये हम पूरी दुनिया से झूठ बोल सकते हैं पर खुद से नहीं I यकीन मानिये सिर्फ इस अकेली एक्टिविटी में इतनी ताकत है कि ये आपको अर्श तक ले जा सकती है I सिर्फ आपको आईने के सामने खड़े हो पुरे दिन में किये ऐसे कामों को याद करना है जिनपर आप गर्व कर सकते हैं, और खुद को शाबाशी देनी है I

Click Here for SAMPLE DAY PLAN

दोस्तों, अब हमारे पास दो फ्रेम हैं अपनी productivity को बढाने के लिए I  हम अपने पुरे दिन को दो भागों में बाँट लेते हैं I

i) FIXED SCHEDULE:

Fixed Schedule में हम हररोज़ के जरूरी कामों को जैसे नहाना-धोना, खाना, सोना, व्यायाम, आराम और साथ ही पढाई का समय निश्चित कर देते हैं I इसमें हमने अपने पुरे दिन को structured या समयबद्द कर दिया है I

ii) DAY PLAN:

Day Plan में हम सिर्फ पढाई को लेकर एक दिन की प्लानिंग करेंगे और पुरे फोकस के साथ उसे पूरा भी करेंगे I सिर्फ एक दिन की प्लानिंग इसलिए क्यूंकि हम आज के अपने अनुभवों को देखते हुए कल के लिए बेहतर प्लानिंग कर पायें I

7. पढाई का माहौल बनायें (Make Study Atmosphere):

  • अपने Study Table को साफ़-सुथरा रखें I इसपर कोई भी फालतू चीज़ नहीं होनी चाहिए I यहाँ पढाई के लिए पर्याप्त रोशनी होनी चाहिए I
  • बैठने के लिए आरामदायक कुर्सी की बजाय किसी स्टूल का इस्तेमाल करें तो ज्यादा अच्छा होगा I हमें किसी ऐसी चीज़ पर बैठना चाहिए जिसपर कमर सीधी रहे और हम हमेशा सजग रहें I आरामदायक कुर्सी पर आलस ज्यादा आता है I
  • Mobile को हो सके तो Switch-off ही कर दें I यदि इसे ऑन रखना मज़बूरी ही है तो इसे घर वालों के हवाले कर दें I याद रखें कि मोबाइल और टेलिविज़न पढाई से ध्यान भटकाने के लिए सबसे ज्यादा उत्तरदायी हैं I मोबाइल पर एक कॉल या मैसेज आते ही पढाई की सारी चाल ही रुक जाती है और हम मोबाइल में एक के बाद एक ऐप खोलते-खोलते न जाने कहाँ से कहाँ निकल जाते हैं I इसी सब में जब पीछे मुड़कर देखते हैं तो घंटों ख़राब हो चुके होते हैं I

8. जाम सत्र (Jam Session):

सुनने में थोडा अजीब लग रहा है ना…. पर ये वो तकनीक है जो आपको बिलकुल बदल कर रख सकती है I इस तकनीक में आपको बिना ध्यान को भटकाए (distraction) पूरे फोकस के साथ पढ़ना है I अगर आपको लगता है कि कोई चीज़ पढाई के वक़्त आपका ध्यान भंग कर सकती है, तो पहले से ही उसका समाधान कर दें I नीचे दी गयी कुछ तकनीक इस्तेमाल करके आप इसका और भी लाभ उठा सकते हैं I

  • Use Pointer –

पढ़ते वक़्त आप किसी पेन, पेंसिल या अपनी ऊँगली का इस्तेमाल पॉइंटर के रूप में कर सकते हैं I इसे use करने के पीछे scientific reason है I जब हम किसी पॉइंटर के बिना पढ़ते हैं तो हमारी आँखे सिर्फ वही नहीं देखती जो हम पढ़ना चाहते हैं I वो आस पास के सभी शब्दों में भी उलझी हुई होती हैं I जिसकी वजह से हमारे पढ़ने की speed कम हो जाती है I जिस लाइन को आप पढ़ रहे है ऊँगली को उसके नीचे लगायें और आँखे जो शब्द पढ़ रही हैं उससे थोडा आगे ही चलायें I  यदि आप पॉइंटर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो पहले से करीब दोगुनी गति से पढ़ सकेंगे I जरा try करके देखिये I

  • Make Notes

सीधा बैठें और main headings को एक कापी में नोट करते रहें I लिखने भर से वो 60% तक आपके दिमाग में जगह बना लेंगी और जब Revision करेंगे तो पूरी तरह से याद रहेगा I

  • Lite Music –

आप हिसाब के सवाल हल करते वक़्त धीरे-धीरे हल्का म्यूजिक चला सकते हैं I सवालों को हल करते हुए हल्का म्युज़िक हमें एनर्जी से भर देता है I इससे आप पूरी तरह refreshed महसूस करेंगे I

ऊपर दी गयी सभी तकनीकों को इस्तेमाल करके आप तय समय पर अपना सिलेबस आसानी से पूरा कर लेंगे I यहाँ तक हमारा 75% समय बीत चुका होगा और अब हम बाकि बचे 25% समय का इस्तेमाल देखेंगे I

9. सबकुछ दोहराइए (Revise Everything):

अभी आपके पास 25% यानिकी 2 हफ्ते का समय बचा है I अब आप हररोज़ का पहले से तीन गुना टारगेट सेट करके revision करें I नोट्स का इस्तेमाल करें I

अब आप किसी भी Exam के लिए तैयार हैं I इस युक्ति को आप सिर्फ Academic Exams ही नहीं बल्कि जीवन के किसी भी टारगेट को हासिल करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं I फिर चाहे वो Financial Goal Setting, Personality Development Goal Setting, Entrance Exam और चाहे Job Exams की तैयारी हो I ये हर जगह काम करेगा I

याद रखिये कि आपके और आपकी सफलता के बीच सिर्फ़ आप खुद खड़े हैं I जिस दिन आपने इस सच्चाई को महसूस कर सुधार लिया, उस दिन कोई भी टारगेट आपकी पहुँच से दूर नहीं होगा I

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *